छत्तीसगढ़

बिलासपुर नगर निगम के दावों की खुली पोल, बारिश से कई इलाके हुए जलमग्न | news-forum.in

बिलासपुर | शहर सहित प्रदेश भर में रूक-रूक कर हो रही बारिश से निगम की व्यवस्था चरमरा गई है। लगातार बारिश से निगम के कई वार्डों में जलभराव की स्थिति है। नालों और नालियों का गंदा पानी निचली बस्तियों व वार्डों में भर गया है। जिससे जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। बारिश के कारण उपजी समस्याओं से लोगों का कामकाज प्रभावित हुआ है।

 

4 से 5 फीट जलभराव

वार्ड परिसीमन के बाद निगम में शामिल हुए नए क्षेत्र इससे सबसे ज्यादा प्रभावित हैं। वार्ड 5 और 8 तिफरा में हालात बेहद खराब है। यहां गोखने नाला उफान पर है। नाले का पानी सड़कों और वार्डों में भर गया है। स्थिति ये है कि कई वार्ड और घर टापू बन गए हैं। इन इलाकों में चार से पांच फीट जलभराव हो गया है, बाढ़ जैसे हालात हैं। जिसकी वजह से वार्डों का संपर्क भी शहर से टूट गया है। लोग जान जोखिम में डालकर उफनते नालों को पार कर आने-जाने के लिए मजबूर हैं।

 

जनप्रतिनिधि आइसोलेट पर

लोगों का कहना है कि ये स्थिति बीते 5-6 दिनों से है। वार्डों में जलभराव है, नाले का पानी लोगों के घरों में घुस गया है। इसकी शिकायत भी निगम के आला अधिकारियों से की गई है, लेकिन अब तक कोई राहत कार्य नहीं हो पाया है। मेयर, सभापति, आयुक्त सहित अधिकांश जनप्रतिनिधि, अधिकारी कोरोना के कारण आइसोलेट हैं।

 

पानी निकासी की बनाई जा रही व्यवस्था

हालांकि वार्ड पार्षदों का कहना है कि ज्यादा बारिश के कारण निचली बस्तियों में जलभराव हुआ है। पानी निकासी के लिए व्यवस्था बनाई जा रही है। प्रभावित लोगों को सामुदायिक भवनों में शिफ्ट करने का काम किया जा रहा है। लेकिन लगातार बारिश के कारण इसमें दिक्कत आ रही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close