देश-विदेश

विधायक के घर आगजनी व तोड़फोड़ पर भाजपा प्रवक्ता अमित मालवीय बोले- मनगढंत ‘भीम-मीम एकता’ के लिए दो मिनट का मौन

विधायक का भांजा सहित 110 लोग गिरफ्तार, दो की गई जानें

बेंगलुरु । सोशल मीडिया में विवादित पोस्ट लिखने से भड़के उपद्रवियों ने कल रात कर्नाटक विधायक अखंड श्रीनिवासमूर्ति के निवास पर तोड़फोड़ की और आग लगा दी। विवादित पोस्ट लिखने के आरोप में विधायक अखंड श्रीनिवासमूर्ति के भांजे को गिरफ्तार कर लिया गया है। इसके साथ ही विधायक के घर में घुसकर उपद्रव मचाने व आग लगाने के मामले में अबतक 110 लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। मामले में भाजपा के प्रवक्ता व आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय ने ट्वीट कर मुस्लिम-दलित एकता का नारा देने वालों पर जमकर निशाना साधा है।

भाजपा ने दलित-मुस्लिम एकता पर साधा निशाना

बेंगलुरु हिंसा को लेकर BJP के प्रवक्ता और IT सेल के प्रमुख अमित मालवीय ने मुस्लिम-दलित एकता का नारा देने वालों पर जमकर निशाना साधा है। अमित मालवीय ने ट्वीट किया कि बेंगलुरु में जो हो रहा है उससे भीम-मीम की एकता के मनगढंत नारे के लिए 2 मिनट का मौन रखा जाए। कांग्रेस के विधायक अखंड श्रीनिवास मूर्ति जिनका घर जलाया गया है, वो दलित हैं। जिस सीट से वो विधायक हैं, वो रिज़र्व सीट है।

दो लोगों की गई जान

बवाल बढ़ता देख आख़िर में पुलिस को फायरिंग करनी पड़ी। इस फायरिंग में दो लोगों की जान चली गई। पुलिस ने आपत्तिजनक पोस्ट करने वाले विधायक के भांजे को गिरफ़्तार कर किया है। हिंसा की इस घटना के ख़िलाफ़ कर्नाटक के अमीर-ए-शरीयत ने भी शांति की अपील की है। राज्य के गृह मंत्री बासवराज बोम्मई ने कहा है कि हिंसा में शामिल लोगों को बख्शा नहीं जाएगा।

पैगंबर मोहम्मद साहब के ख़िलाफ़ पोस्ट

दरअसल आरोप है कि विधायक अखंड श्रीनिवास मूर्ति के भांजे ने पैगंबर मोहम्मद साहब के ख़िलाफ़ सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक पोस्ट लिखी थी। ये ख़बर फैलने के बाद शाम साढ़े 7 बजे के क़रीब मुस्लिम समुदाय के सैकड़ों लोगों की भीड़ उनके घर के बाहर जमा हो गई। ग़ुस्साए लोगों ने विधायक के घर पर पत्थरबाज़ी की। इतने से ही ग़ुस्सा शांत नहीं हुआ तो वहां मौजूद 2-3 गाड़ियों में भी आग लगा दी। इसके बाद नाराज़ भीड़ डीजे हल्ली पुलिस स्टेशन पहुंच गई और वहां भी जमकर हंगामा और तोड़-फोड़ की।

एसीपी सहित 60 पुलिस जवान घायल

बेंगलुरु में कल रात हुई बहुत बड़ी हिंसा के मामले में पुलिस ने 110 लोगों को गिरफ्तार किया है। इस हिंसा में दो लोगों की मौत हुई है और एसीपी सहित 60 पुलिस जवान घायल हुए हैं। हिंसा की अब तक जो तस्वीरें आई हैं उन्हें देखने से तो यही लग रहा है कि हिंसा को सुनियोजित ढंग से अंजाम दिया गया है।

क्या है मामला

बेंगलुरु में एक विधायक के भांजे की फेसबुक पोस्ट के बाद हिंसा हो गई। ग़ुस्साई भीड़ ने विधायक के घर और थाने पर हमला कर दिया। पुलिस की फायरिंग में 2 प्रदर्शनकारियों की मौत हो गई। एक एडिश्नल कमिश्नर समेत 60 लोग घायल हुए हैं। वहीं पोस्ट लिखने के आरोप में कर्नाटक के विधायक अखंड श्रीनिवासमूर्ति के भांजे को गिरफ्तार कर लिया गया है। इसके साथ ही इस मामले में अबतक 110 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। आरोप है कि विधायक अखंड श्रीनिवास मूर्ति के भांजे ने पैगंबर मोहम्मद साहब के ख़िलाफ़ सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक पोस्ट लिखी थी। ये ख़बर फैलने के बाद शाम साढ़े 7 बजे के क़रीब समुदाय के सैकड़ों लोगों की भीड़ उनके घर के बाहर जमा हो गई।

पूरी खबर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

भड़काऊ पोस्ट के चलते कांग्रेस विधायक के घर उपद्रवियों ने की तोड़फोड, लगाई आग

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close