देश-विदेश

चीन ने अक्साई चिन में तैनात किया J-20 जेट तो IAF ने जवाब देने राफेल जेट किया तैनात …

नई दिल्ली। भारत और चीन के बीच 5 मई से जारी टकराव खत्म होने के बजाए लगातार बढ़ता ही जा रहा है। दोनों देशों के बीच संबंध में सुधार होने की बात मीडिया में अब तक सामने आ रही थी लेकिन एक नई रिपोर्ट के मुताबिक चीन और भारत दोनों ने ही लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (एलएसी) पर अपने सबसे एडवांस्ड जेट्स तैनात कर दिए हैं। यह नई जानकारी ऐसे समय में सामने आई है जब आज दोनों देशों के बीच टकराव को खत्म करने के लिए राजनयिक स्तर की वार्ता होनी है। भारत और चीन के बीच 15 जून को गलवान घाटी में हुई हिंसा के बाद टकराव नए स्तर पर पहुंच गया था। इस हिंसा में भारत के 20 सैनिक शहीद हो गए थे।

 

लद्दाख से मात्र 320 किमी दूर चीनी जेट

हांगकांग से निकलने वाले अखबार साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि भारत और चीन ने अपने सबसे एडवांस्ड फाइटर जेट्स को लद्दाख में एलएसी पर तैनात कर दिया है। अखबार ने फोर्ब्स की रिपोर्ट का हवाला देते हुए लिखा है कि दो चीनी जे-20 स्टेल्थ फाइटर जेट्स को वेस्टर्न शिनजियांग क्षेत्र में स्थित होटान एयरबेस पर तैनात किया गया है। फोर्ब्स ने अपनी रिपोर्ट में सैटेलाइट तस्वीरों के जरिए बताया है कि चीन के होटान एयर बेस पर दो जे-20 जेट तैनात हैं। ये जगह अक्साई चिन में है और लद्दाख से बस 320 किलोमीटर दूर है।

जवाब देने के लिए रेडी राफेल

इस बीच भारत ने भी पांच राफेल जेट्स को लद्दाख में तैनात कर दिया है। हिन्दुस्तान टाइम्स ने अपनी एक रिपोर्ट में कहा था कि राफेल जेट लगातार हिमाचल प्रदेश में नाइट फ्लाइंग की प्रैक्टिस कर रहे हैं और अब इन्हें लद्दाख में तैनात कर दिया गया है। इंडियन आर्मी ने जहां लद्दाख में अपनी सैन्य क्षमताओं में इजाफा किया है। सेना ने टैंक्स, दूसरे हथियार तैनात कर दिए हैं। वहीं इंडियन एयरफोर्स (आईएएफ) भी लगातार हाई अलर्ट पर है। एलएसी पर अपने एयरबेसेज पर आईएएफ किसी भी हरकत का जवाब देने के लिए पूरी तरह से चौकस है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close