देश-विदेश

कौशांबी में कानपुर शूटआउट जैसी घटना, पुलिस टीम पर हमला, गांव वालों ने छीन लिए पिस्टल

कौशांबी । उत्तर प्रदेश में अपराधियों के हौसले बुलंद होते जा रहे हैं। उनक ठिकानों पर कार्रवाई करने पहुंची पुलिस को अपना निशाना बना रहे है। बीत महीने कानपुर के बिकरू गांव में गैंगस्टर विकास दुबे ने पुलिस टीम पर हमला कर 8 पुलिस कर्मियों को मौत के घाट उतार दिया था। कुछ इसी तरह की घटना कोशांबी (Kaushambi) जिले में हुआ है……पुलिस की टीम पर ये हमला उस वक्त हुआ जब पुलिस एक आरोपी को पकड़ने गई थी.. हमले में एक सिपाही और एक दारोगा गंभीर रुप से घायल हुए हैं..दोनों को इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है… इतना ही नहीं गांव वाले दारोगा की पिस्टल छीनकर फरार हो गए। ये घटना कड़ा धाम के कछुआ गांव की है। पुलिस लूटी गई पिस्टल की तलाश कर रही है।

 

चोर पकड़ने गई थी टीम

बताया जा रहा है कि बुधवार रात करीब आठ बजे सैनी क्षेत्र के कछुआ गांव में चोरी के एक मामले में दबिश देने गई थी। इस बीच पुलिस टीम और ग्रामीणों में बहस हो गई। विवाद इतना बढ़ा कि ग्रामीणों ने पुलिस टीम पर हमला बोल दिया। पुलिस टीम की पिटाई के बाद ग्रामीणों ने दरोगा की पिस्टल भी लूट ली। सूचना पर मौके पर पहुंचे एसपी अभिनंदन ने हमलावरों की गिरफ्तारी और पिस्टल की रिकवरी के निर्देश दिए हैं।

आरोपी की मां ने करवाया हमला

छापेमारी के दौरान कड़ा धाम कोतवाली पुलिस ने सिंटू नाम के एक युवक को हिरासत में ले लिया। इसी दौरान हिरासत में लिए गए युवक की मां फूल कली कई महिलाओं और लड़कों के साथ मिलकर पुलिस टीम पर ईट-पत्थर व लाठी-डंडे से हमला बोल दिया। हमले में एक दारोगा और सिपाही को गंभीर चोटें आई हैं। हमलावरों ने दारोगा की सर्विस रिवाल्वर और मोबाइल भी छीन लिया। दोनों पुलिसकर्मी किसी तरह मौके से भागकर अपनी जान बचाई।

तीन महिला समेत एक युवक हिरासत में

पुलिस टीम पर हमले की जानकारी होने पर महकमे में हड़कंप मच गया। कई थाना की पुलिस मौके पर पहुंची। ताबड़तोड़ छापेमारी की गई। इस दौरान तीन महिला समेत एक युवक को पुलिस ने हिरासत में लिया है।

बिकरू गांव में टीम पर हुआ था हमला

बता दें कि बीते महीने कानपुर के बिकरू गांव में भी पुलिस टीम पर हमला किया था। यहां पर गैंगस्टर विकास दुबे को पकड़ने गई पुलिस टीम पर हमला किया गया था, जिसमें 8 पुलिसकर्मी शहीद हो गए थे। इस वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपी विकास दुबे फरार हो गया था। करीब एक हफ्ते बाद उसे मध्य प्रदेश के उज्जैन से पकड़ा गया था। उज्जैन से कानपुर लाते वक्त यूपी एसटीएफ ने एनकाउंटर में उसे मार गिराया था।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close