जानें और सीखें

Indian Railway : ट्रेन के आखिरी डिब्बे पर क्यों बना होता है X का निशान, क्यों लिखा रहता है LV, जानें यहां …

नई दिल्ली। भारतीय रेल ट्रांसपोर्ट का बहुत अच्छा साधन है। यह हमें एक स्थान से दूसरे स्थाने लेकर जाने के साथ ही सामान की ढुलाई भी करती है। रेलवे की ओर से पिछले कुछ दिनों में कई बदलाव किए गए हैं तो वहीं आने वाले समय की योजनाएं भी बनाई जा रही है। वर्तमान और भविष्य के अलावा रेलवे का इतिहास भी बेहद गहरा और रोचक है। फिर चाहे रेलवे के नंबर सिस्टम का राज हो, ट्रेन के डिब्बों पर बने निशाना का राज हो या फिर रेलवे स्टेशनों पर लाइनों पर बने संकेतों की मतलब। इन्हीं में से एक ही ट्रेनों के पीछे बने X के निशान। आपने कई बार ट्रेनों को गुजरते वक्त, स्टेशनों पर या सफर के दौरान दौरान देखा होगा कि हर पैसेंजर ट्रेन के पीछे, आखिरी डिब्बे पर बड़ा सा X बना होता है, लेकिन क्या आप जानते हैं कि ये क्यों बनाया जाता है ? आइए आपको इसके बारे में बताते हैं कि आखिर क्यों ट्रेन के आखिरी बोगी पर एक्स का निशान बनाया जाता है?

आखिरी डिब्बे पर क्यों बनाया जाता है X का निशान

आप सबने कभी न कभी ट्रेन के आखिरी बोगी के पीछे एक्स (X) का निशान बने जरूर देखा होगा। हर पैसेंजर ट्रेन के पीछे यह निशान बना होता है, लेकिन क्या आप जानते हैं कि इस निशान का मतलब क्या है? क्यों इसे हर पैसेंजर ट्रेन के आखिरी डिब्बे के पीछे बनाया जाता है ? ट्रेन के अंत में बने ये निशान सफेद और पीले रंग के होते हैं। रेलवे के हर पैसेंजर ट्रेन के पीछे इसे बनाना अनिवार्य होता है। वहीं इसके साथ कई ट्रेनों में LV भी लिखा लिखा होता है। वहीं ट्रेन के पीछे एक लाल रंग की ब्लिंक करने वाली लाइट भी लगी होती है।

क्यों लिखा जाता है LV ?

एक्स की तरह ही नीचे की ओर LV लिखा होता है, जिसका मतलब होता है Last vehicle, यानी कि आखिरी डिब्बा। ट्रेन के आखिरी डिब्बे पर लिखे LV को देखकर रेलवे के कर्मचारी समझ जाते हैं कि ट्रेन का आखिरी डिब्बा है। अगर रेलवे के कर्मचारियों कभी ट्रेन के आखिरी डिब्बे पर इन दोनों में से कोई भी संकेत नहीं है तो वो समझ जाते हैं कि इमरजेंसी की स्थिति है। वहीं ट्रेन के आखिरी डिब्बे पर लाल रंग की ब्लिंक लाइट होती है तो ट्रैक पर काम करने वाले कर्मचारियों को निर्देश देती है कि ट्रेन उस जगह से निकल चुकी है। कभी बार खराब मौसम के कारण ट्रेन नहीं दिखाई देती है, लेकिन इस लाल रंग की चमकती लाइट दूर से ही देखी जा सकती है। वहीं ये लाइट पीछे से आ रही ट्रेनों के लिए भी अलर्ट का काम करती है। लाइट को देखकर पीछे से आ रही ट्रेन के ड्राइवर को अंदाजा लग जाता है कि ट्रेन उनसे कितनी दूरी पर है।

क्या होता है इस X निशान का मतलब

दरअसल यह रेलवे का एक कोड है, जो सिक्योरिटी और सेफ्टी के उद्देश्य से हर पैसेंजर ट्रेन के पीछे बनाया जाता है। इसे देखकर रेलवे के कर्मचारी समझ जाते हैं कि ट्रेन के सारे डिब्बे सुरक्षित हैं। अगर आखिरी में ये एक्स का निशान न दिखे तो समझा जाता है कि ट्रेन में कुछ गड़बड़ी है, या कोई डिब्बा छूट गया है। जिसे समझकर रेलवे उचित कदम उठाता है। अगर आप सफर से पहले लास्ट बोगी पर यह निशान देख लेते हैं तो आप खुद को संतुष्ट कर सकते हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close