देश-विदेश

बर्फ से ढकी 8 हजार फीट की चोटी पर भारतीय जवानों ने ऐसे मनाया स्वतंत्रता दिवस, देखें Video

नई दिल्ली। भारत स्वतंत्रता दिवस की 74 वीं वर्षगांठ मना रहा है। इस मौके पर भारतीय सेना ने भी 8 हजार फीट की ऊंचाई पर जम्मू-कश्मीर के गुरेज सेक्टर में राष्ट्रध्वज तिरंगा झंडा फहराकर स्‍वतंत्रता दिवस मनाया। इस कार्यक्रम का एक वीडियो सामने आया है, जिसमें देखा जा सकता है कि बर्फ से ढंकी पहाड़ की चोटी पर भारतीय सेना के जवानों ने झंडारोहण किया। इस मौके पर जवानों ने राष्‍ट्रगान गाकर राष्‍ट्रीय ध्‍वज तिरंगा फहराया और भारत माता की जय, जय हिंद के नारे भी लगाए।

14 हजार फीट की ऊंचाई पर तिंरगा फहराया

उधर, स्‍वतंत्रता दिवस के मौके पर भारत तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) के जाबांज जवानों ने 14 हजार फीट की ऊंचाई पर तिंरगा फहराया। इस दौरान लद्दाख का पहाड़ी क्षेत्र ‘भारत माता की जय’ के नारों से गूंज उठा। लद्दाख में 14 हजार फीट की ऊंचाई पर तिरंगा फहरा कर भारतीय जवानों ने दुश्मन को यह संदेश दे दिया है कि भारत अपनी संप्रभुता के साथ किसी भी प्रकार का समझौता नहीं करेगा। बता दें कि आईटीबीपी के जवानों ने लद्दाख के पैंगोंग त्सो नदी के तट पर तिरंगा फहराकर स्वतंत्रता दिवस 2020 का जश्न मनाया।

दुश्मन देशों को दिया कड़ा संदेश

15 अगस्त के मौके पर पूरे देश में स्वतंत्रता दिवस की धूम है, वहीं भारत के वीर जवानों ने पहाड़ों की ऊंचाई पर तिरंगा फहराकर दुश्मन को कड़ा संदेश दिया है। सैन्‍य सूत्रों के अनुसार, भारतीय सेना के जवानों ने 8 हजार फीट की ऊंचाई पर स्थित जम्‍मू कश्‍मीर के गुरेज सेक्‍टर में भी स्‍वतंत्रता दिवस मनाया। जम्‍मू-कश्‍मीर के उपराज्‍यपाल मनोज सिन्‍हा ने शेर-ए-कश्मीर क्रिकेट स्टेडियम में 74 वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर तिरंगा फहराया। पहाड़ की चोटी से भारतीय सेना के जवानों का उद्घोष दुश्मन देशों को यह संदेश दे रहा था कि वह स्‍वतंत्रता दिवस के जश्न के बीच भी भारत माता की रक्षा में डटे हुए हैं।

भारतमय हुआ लद्दाख

हर साल की तरह इस बार भी आईटीबीपी के जवानों ने लद्दाख में चीन के साथ सटे सीमावर्ती इलाके पर तिरंगा फहराया है। जवानों ने इतनी जोर से ‘भारत माता की जय’ और ‘वंदे मातरम’ के नारे लगाए कि उसकी गूंज चीनी सैनिकों तक भी पहुंची। आईटीबीपी के जवानों ने तिरंगे और आईटीबीपी के झंडे को फहराया। लद्दाख के पैंगोंग त्सो नदी के तट पर भारतीय सेना के जवानों ने तिरंगे को सलामी भी दी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close