छत्तीसगढ़

दिल्ली सहित अन्य राज्यों तक पहुंचने लगी है जशपुर की नाशपाती

रायपुर । छत्तीसगढ़ राज्य के जशपुर जिले के नाशपाती की मिठास दिल्ली सहित अन्य राज्यों में फैलने लगी है। यहां की नाशपाती की मांग बढ़ने से किसानों की आमदनी बढ़ी है। छत्तीसगढ़ सरकार के सहयोग मिलने व नई तकनीकों के समावेश से किसान कम क्षेत्रफल में भी ज्यादा से ज्यादा फसल लेने में कामयाब हो रहे हैं। जिला जशपुर की जलवायु चाय की खेती, काजू, मिर्च और नाशपाती की खेती के लिए अच्छी मानी जाती है।

किसान आर्थिक रूप से संपन्न बने इसके लिए कृषि, उद्यान, मत्स्य और उर्जा विभाग के द्वारा चलाए जा रहे विभिन्न योजनाओं के माध्यम से उन्हें आधुनिक खेती की जानकारी दी जा रही है, ताकि जिले के किसान कम लागत से अच्छी खेती कर सके।

जशपुर जिले के दूरस्थ विकासखण्ड क्षेत्र बगीचा के पठारी क्षेत्रों में व्यापक पैमाने पर नाशपाती की पैदावार हो रही है। जिले के किसानों को नाशपाती की खेती के लिए बढ़ावा देने के लिए उद्यान विभाग की फल क्षेत्र विस्तार योजना और नाशपाती क्षेत्र विस्तार योजना अन्तर्गत लाभान्वित किया जा रहा है। यहां पर 750 हेक्टेयर में लगभग 660 मीट्रिक टन नाशपाती का उत्पादन किसान प्रत्येक वर्ष कर रहे है। बगीचा से नाशपाती की सप्लाई दिल्ली, उत्तरप्रदेश, झारखंड सहित अन्य राज्यों में भी होने लगी है।

कलेक्टर महादेव कावरे के मार्गदर्शन में जशपुर जिले के दूरस्थ अंचलों में निवास करने वाले किसान सब्जी का उत्पादन के साथ चाय की खेती, काजू, मिर्च और नाशपाती की अच्छी खेती करते हैं । जशपुर जिले के बगीचा विकास खंड क्षेत्र के पठारी क्षेत्रों में व्यापक पैमाने पर नाशपाती की पैदावार हो रही है। नाशपाती से किसानों अच्छी आमदनी हो रही जिससे उनका जीवन स्तर ऊंचा उठ रहा है और आत्म निर्भर बन रहे हैं । कलेक्टर महादेव कावरे किसानों को खेती के क्षेत्र में आगे बढ़ाने के लिए सार्थक प्रयास कर रहे हैं।

ग्रामीण अर्थव्यवस्था को मजबूती मिले और किसान आर्थिक रूप से संपन्न बने इसके लिए कृषि विभाग ,उघान विभाग , मत्स्य विभाग, उर्जा विभाग के माध्यम से उन्होंने छत्तीसगढ़ शासन की विभिन्न योजनाओं से लाभान्वित किया जा रहा है। साथ ही उन्हें आधुनिक खेती की जानकारी दी जा रही ताकि जिले के किसान कम लागत से अच्छी खेती कर सके उघान विभाग के सहायक संचालक रामअवध सिंह भदौरिया ने बताया कि जिले के किसानों को नाशपाती की खेती के लिए बढ़ावा देने के लिए उघान विभाग की फल क्षेत्र विस्तार योजना अन्तर्गत और नाशपाती क्षेत्र विस्तार योजना अन्तर्गत लाभान्वित किया जा रहा है।

जिले के किसान रकबा 750.00 हेक्टेयर में नाशपाती का उत्पादन कर रहे हैं और 660 मि.टन नाशपाती का उत्पादन जिले में हो रहा है जिले के लगभग 1700 किसान नाशपाती खेती से लाभ प्राप्त कर रहे हैं। इन दिनों बगीचा के पठारी क्षेत्रों के नाशपाती की मांग अन्य राज्य के साथ साथ बड़े बड़े शहरों में होने लगी है । जशपुर जिले की नाशपाती दिल्ली उत्तर प्रदेश रांची के अन्य राज्यों में भी बड़ी संख्या में मांग की जा रही है और जशपुर जिले से नाशपाती भेजा जा रहा। है  योजनाओं से लाभान्वित किसानों ने छत्तीसगढ़ शासन और जिला प्रशासन को धन्यवाद दिया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close