छत्तीसगढ़

Bhartiya-Safai-karamchari-Mahasangh: मुख्यमंत्री से भारतीय सफाई कर्मचारी महासंघ ने मुलाकात कर सौंपा मांगों का ज्ञापन

रायपुर। सफाई कर्मचारियों के विभिन्न परेशानियों को ध्यान में रखते हुए 17 जुलाई 2020 को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से यहां उनके निवास कार्यालय में भारतीय सफाई कर्मचारी महासंघ (Bhartiya-Safai-karamchari-Mahasangh) छत्तीसगढ़ के प्रतिनिधिमंडल ने उनसे सौजन्य मुलाकात की। मुलाकात के दौरान भारतीय सफाई कर्मचारी महासंघ (Bhartiya-Safai-karamchari-Mahasangh) के निलेश लंगोटे के नेतृत्व में प्रतिनधिमंडल ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को गुलदस्ता भेंटकर उनका सम्मान किया।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से भारतीय सफाई कर्मचारी महासंघ के प्रदेश स्तरीय पदाधिकारियों ने की मुलाकात बताया सफाई कामगारों की समस्या को बताया। प्रतिनिधि मंडल ने बताया कि सफाई पुरातनकाल से मल-मूत्र साफ कर नाना प्रकार के संक्रमण से लड़ते रहते हैं और कोरोना महामारी से कोरोना योद्धा बनकर देश-प्रदेश को साफ स्वस्थ रखा है।

खेद है कि पूर्व में नगरीय प्रशासन विभाग के पत्र क्रमांक एफ 10 – 299 / 18 / 2010 रायपुर, दिनांक 6 / सितंबर 2014, को राज्य शासन द्वारा सर्वोच्च न्यायालय के निर्देशों का हवाला देते हुए सफाई कर्मचारियों के शासकीय नियमित पदों को समाप्त करने का आदेश जारी किया गया। जिसका भारतीय सफाई कर्मचारी महासंघ तथा समस्त सफ़ाई कामगार परिवार निंदा करता है।

प्रतिनिधिमंडल ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को बताया कि सर्वोच्च न्यायालय के निर्देशों को गलत परिभाषित कर गरीब सफाई कर्मियों  की जीविका पर सीधा प्रहार करते हुए DYING CADRE पद घोषित करते हुए सफाई कर्मचारियों को एक प्रकार से मृत्युदंड की सजा दे दी गई है ।जबकि उच्चतम न्यायालय के निर्देशों में  यह साफ शब्दों में कहा गया है कि हाथ से मैला साफ करने वाले कार्यों को तत्काल प्रभाव से प्रतिबंधित किया जाए न कि सफाई कर्मचारियों के पदों को समाप्त किया जाए ।

महासंघ ने यह भी बताया कि उच्चतम न्यायालय के निर्देशों का पूर्व सरकार ने प्रदेश में धज्जियां उड़ाने वाले गलत परिभाषित अमानवीय “आदेश क्रमांक एफ 10 – 299 / 18 / 2010 रायपुर,  दिनांक 6 सितंबर 2014,” को तुरंत निरस्त करते हुए डाइंग कैडर सफाई पद को (DYING CADRE) घोषित दिनांक से जारी आदेश को निरस्त करने की मांग की। जिस पर मुख्यमंत्री ने न्याय का आश्वासन दिया।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री से मुलाकात करने हेतु प्रदेशभर से सभी भारतीय सफाई कर्मचारी महासंघ छत्तीसगढ़ के पदाधिकारी गण उपस्थित हुए। जिनमें प्रदेश प्रभारी एवं राष्ट्रीय महासचिव व वरिष्ठ अधिवक्ता जन्मेजय सोना, प्रदेश अध्यक्ष निलेश लंगोटे, प्रदेश कार्यवाहक अध्यक्ष रिक्की समुद्रे, दुर्ग संभाग अध्यक्ष संजीव बकसरे, बस्तर संभाग प्रभारी/डोंगरगढ़ शहर अध्यक्ष नरेश करसे, प्रदेश अध्यक्ष राष्ट्रीय सफाई मजदूर कांग्रेस सिकंदर उसरवर्षा, बिरगांव अध्यक्ष भगत सेंद्रे, रायपुर शहर उपाध्यक्ष प्रेम तांडी, छत्तीसगढ़ डोमार समाज अध्यक्ष भरत कुंडे, रायपुर शहर अध्यक्ष रोहित बाग, रायपुर कार्यवाहक अध्यक्ष रितेश समुंद्रे, जिलाध्यक्ष रायपुर सदन सेंद्रे,  सुमित नायक,  हर्षित समुंद्रे, सरगुज़ा संभाग संरक्षक दीपक कलश, चिरमिरी जिलाध्यक्ष उत्तम बेरिसाल, जशपुर जिला अध्यक्ष महेंद्र राम,  तथा भारतीय सफाई कर्मचारी महासंघ छत्तीसगढ़ के अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close